चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 47

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 47
231 : - विचार अथवा मंत्रणा को गुप्त न रखने पर कार्य नष्ट हो जाता है।

232 : - लापरवाही अथवा आलस्य से भेद खुल जाता है।

233 : - सभी मार्गों से मंत्रणा की रक्षा करनी चाहिए।

234 : - मन्त्रणा की सम्पति से ही राज्य का विकास होता है।

235 : - मंत्रणा की गोपनीयता को सर्वोत्तम माना गया है।

Also, Read
Swami Vivekananda
Good Morning
Chanakya Niti

chanakya niti for motivation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

पुरुष बूढ़ा क्यों हो जाता है। || चाणक्य नीति chanakya niti ||  भाग 97

पुरुष बूढ़ा क्यों हो जाता है। || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 97

481 : - अधिक मैथुन (सेक्स) से पुरुष बूढ़ा हो जाता है। 481 : -

ज्ञानियों में भी दोष  || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 75

ज्ञानियों में भी दोष || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 75

Chanakya Neeti In Hindi 371 : - साधारण दोष देखकर महान गुणों को त्याज्य नहीं

धर्म के समान क्या  || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 87

धर्म के समान क्या || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 87

chanakya niti for success in life in hindi 431 : - धर्म के समान कोई

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakya Niti भाग 130

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakya Niti Motivation भाग 130

Chanakya Niti for motivation 646 : - जो सुख मिला है, उसे न छोड़े। 646

जीवन के समान है। || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 91

जीवन के समान है। || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 91

chanakya niti for success in life in hindi 451 : - धनवान व्यक्ति का सारा

कभी इन से शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए। || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 113

कभी इन से शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए। || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 113

chanakya niti for success in life 561 : - राजकुल में सदैव आते-जाते रहना चाहिए।