चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 2

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 2

6 :- बिना सत्य के सारा संसार व्यर्थ है. संसार में सब कुछ सत्य पर टिका है. सत्य के तेज से ही सूर्य तपता है, सत्य पर ही पृथ्वी टिकी है, सत्य के प्रभाव से ही वायु बहती है. सत्य ही जीवन का सच है.
6:- bina saty ke saara sansaar vyarth hai. sansaar mein sab kuchh saty par tika hai. saty ke tej se hee soory tapata hai, saty par hee prthvee tikee hai, saty ke prabhaav se hee vaayu bahatee hai. saty hee jeevan ka sach hai.
7 : - गधा बहुत संतोषी जीव है. थकने पर भी वह बोझ ढोता रहता है, सर्दी-गर्मी कि उसे परवाह नहीं रहती, संतुष्ट भाव से जो मिल जाये, उसी से गुजर बसर करना, ये बातें गधे से सीखनी चाहिए.
7:- gadha bahut santoshee jeev hai. thakane par bhee vah bojh dhota rahata hai, sardee-garmee ki use paravaah nahin rahatee, santusht bhaav se jo mil jaaye, usee se gujar basar karana, ye baaten gadhe se seekhanee chaahie.
9 :- भावनाएं इंसान को इंसान से जोड़ती हैं. दूर रहने वाला भी यदि हमारा प्रिय है तो वह हमेशा दिल के पास रहता है, जबकि पास रहने वाला भी हमारे दिल से कोसों दूर ही रहता है क्योंकि उसके लिए हमारे दिल में जगह नहीं होती. 
9 :- bhaavanaen insaan ko insaan se jodatee hain. door rahane vaala bhee yadi hamaara priy hai to vah hamesha dil ke paas rahata hai, jabaki paas rahane vaala bhee hamaare dil se koson door hee rahata hai kyonki usake lie hamaare dil mein jagah nahin hotee.
10 :- क्रोध यमराज के समान है, वह सब कुछ नष्ट कर डालता है. संतोष ही सुख-वैभव प्रदान करता है. विद्या कामधेनु के समान है और तृष्णा वैतरणी के समान कष्टकर है. हमें इन बातों को व्यवहार में लाकर इनके अनुसार ही कार्य करना चाहिए. 
10 :- krodh yamaraaj ke samaan hai, vah sab kuchh nasht kar daalata hai. santosh hee sukh-vaibhav pradaan karata hai. vidya kaamadhenu ke samaan hai aur trshna vaitaranee ke samaan kashtakar hai. hamen in baaton ko vyavahaar mein laakar inake anusaar hee kaary kare

Also, Read
Swami Vivekananda
Good Morning
Chanakya Niti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 12

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 12

chanakya video 56 : - जिस शहर में विद्वान, बुद्धिमान, ज्ञानी पुरुष नहीं रहते, जहां

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakya Niti Motivation भाग 129

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakya Niti Motivation भाग 129

Chanakya Niti for motivation 641 : - बिना प्रयत्न के जहां जल उपलब्ध हो, वही

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 15

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 15

71 : - अप्रिय बोलना, दुष्टों की संगति, क्रोध करना, स्वजन से बैर ये सब

कायर व्यक्ति को कार्य || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 68

कायर व्यक्ति को कार्य || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 68

chanakya niti for success in life 336 : - परीक्षा किये बिना कार्य करने से

सच्चे लोगो के लिए || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 71

सच्चे लोगो के लिए || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 71

Chanakya Neeti In Hindi 351 : - मुर्ख लोगों का क्रोध उन्हीं का नाश करता

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakya Niti भाग 126

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakya Niti Motivation भाग 126

chanakya niti for motivation 626 : - अपने धर्म के लिए ही कोई सत्पुरुष कहलाता