चाणक्य के अनुसार किस पर विश्वास न करें || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 109

चाणक्य के अनुसार किस पर विश्वास न करें || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 109

chanakya niti for success in life

541 : - वाहनों पर यात्रा करने वाले पैदल चलने का कष्ट नहीं करते।
541 : - vaahanon par yaatra karane vaale paidal chalane ka kasht nahin karate.
542 : - जो व्यक्ति जिस कार्य में कुशल हो, उसे उसी कार्य में लगाना चाहिए।
542 : - jo vyakti jis kaary mein kushal ho, use usee kaary mein lagaana chaahie.
543 : - स्त्री का निरिक्षण करने में आलस्य न करें।
543 : - stree ka nirikshan karane mein aalasy na karen.
544 : - स्त्री पर जरा भी विश्वास न करें।
544 : - stree par jara bhee vishvaas na karen.
545 : - स्त्री बिना लोहे की बड़ी है।
545 : - stree bina lohe kee badee hai.

Also, Read
Swami Vivekananda
Good Morning
Chanakya Niti

chanakya niti for success in life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 34

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 34

166 : - आग सिर में स्थापित करने पर भी जलाती है। अर्थात दुष्ट व्यक्ति

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakay Niti भाग 150

चाणक्य के अनमोल विचार – Chanakay Niti भाग 150

746 : - राजा के दर्शन देने से प्रजा सुखी होती है। 746 : -

सज्जन की राय  || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 76

सज्जन की राय || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 76

Chanakya Neeti In Hindi 376 : - सज्जन की राय का उल्लंघन न करें। 376

उचित दंड || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 70

उचित दंड || चाणक्य नीति chanakya niti || भाग 70

chanakya niti for success in life 346 : - राजा योग्य अर्थात उचित दंड देने

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 41

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 41

201 : - आग में आग नहीं डालनी चाहिए। अर्थात क्रोधी व्यक्ति को अधिक क्रोध

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 10

चाणक्य के अनमोल विचार || Chaanaky Ke Anamol Vichaar – Part 10

chanakya video 46 : - विद्वानों एवं साधुजन को स्त्री प्रपंच में नहीं फंसना चाहिए,